Back

मुंबई बॉलीवुड को एक और झटका नहीं रहे बॉलीवुड एक्टर ऋषि कपूर आज हुआ निधन।

मुंबई बॉलीवुड को एक और झटका

नहीं रहे बॉलीवुड एक्टर ऋषि कपूर आज हुआ निधन।


बेहतरीन एक्टर होने के साथ एक अच्छे इंसान भी थे ऋषि कपूर

मशहूर फिल्म पत्रकार शमा ईरानी साझा कर रही है उस महान कलाकार से जुड़ी यादें

बॉलीवुड के लिए ये सप्ताह बड़ा मनहूस सिद्ध हो रहा है। जहां कल इरफान खान दुनिया को अलविदा कह गए वहीं आज गुरुवार को दिग्गज अभिनेता ऋषि कपूर की मृत्यु हो गई. बुधवार को ऋषि कपूर को मुंबई के एक अस्पताल में आईसीयू में भर्ती करवाया गया था और गुरुवार की सुबह वह दुनिया छोड़ कर चले गए. ऋषि कपूर 67 साल के थे और कैंसर के मरीज थे.

अमिताभ बच्चन ने टवीट कर ऋषि कपूर के निधन पर अपने दुख का इजहार किया. उन्होंने लिखा, 'वो गए. ऋषि कपूर गए. अभी उनका निधन हुआ. मैं टूट गया हूं.' ऋषि कपूर को बुधवार को एच एन रिलायंस अस्पताल में भर्ती कराया गया था.

बुधवार रात को ऋषि कपूर को सांस लेने में तकलीफ आई थी, जिसके बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया. इस दौरान अस्पताल में ऋषि की पत्नी नीतू सिंह, भाई रणधीर कपूर समेत परिवार के अन्य लोग मौजूद थे.

कपूर खानदान की ओर से संदेश जारी कर बताया गया कि गुरुवार सुबह 8.45 बजे ऋषि कपूर ने अंतिम सांस ली. वो ल्यूकेमिया नामक बीमारी से पिछले 2 साल से लड़ रहे थे. अस्पताल ने उनके लिए आखिरी दम तक कोशिश की. पिछले साल वो जब विदेश से इलाज करवाकर वापस आए थे, तो काफी खुश थे और हर किसी से मिलना चाहते थे. लेकिन ये बीमारी दूर नहीं जा सकी.

29 अप्रैल को इरफान खान का इंतकाल हुआ था. अब इरफान खान के निधन के 1 दिन बाद 30 अप्रैल को ऋषि कपूर ने आखरी सांस ले ली. एक के बाद एक दो दिग्गज अभिनेताओं की मृत्यु से फिल्म इंडस्ट्री को बहुत बड़ा झटका लगा है. कपूर खानदान के ऋषि कपूर ने अपने परिवार की राह पर चलकर फिल्मों में किस्मत आजमाई. 1973 में फिल्म बॉबी के साथ उन्होंने बॉलीवुड में डेब्यू किया और तब से लेकर हालिया वर्षों तक वह अपनी फिल्मों से हर किसी के दिलों पर राज कर रहे थे. हालांकि, 1970 में राजकपूर की ही फिल्म मेरा नाम जोकर में ऋषि कपूर एक बाल कलाकार की भूमिका में नजर आ चुके थे.

ऋषि कपूर का जन्म 4 सितंबर 1952 को हुआ था. बॉबी, प्रेम रोग, 102 नॉटऑउट, मुल्क समेत सैकड़ों ऐसी फिल्में थीं जिसमें ऋषि कपूर ने शानदार काम किया था. 

मैंने उनसे कई बार मुलाकात की थी। उनका हंसता स्वभाव आकर्षित करता था। एक्टर तो वह थे ही कमाल के, इंसान भी बहुत अच्छे थे। उनके परिवार को यह दुख बर्दाश्त करने की हिम्मत और सब्र मिले, ऐसी दुआ है।

ऋषि कपूर भले ही आज हमारे बीच नहीं हैं लेकिन अपनी फिल्मों के जरिए वह हमेशा दिलों मेे रहेंगे।


संवाददाता शमा ईरानी की रिपोर्ट